Justice News Line | Best News Channel

Logo
July 18, 2024 5:49 pm
Download

Advertisement

Search
Close this search box.
'चुनावी बॉन्ड दुनिया का सबसे बड़ा घोटाला', FM निर्मला सीतारमण के अर्थशास्त्री पति का बड़ा बयान।-'चुनावी बॉन्ड दुनिया का सबसे बड़ा घोटाला', FM निर्मला सीतारमण के अर्थशास्त्री पति का बड़ा बयान।-'चुनावी बॉन्ड दुनिया का सबसे बड़ा घोटाला', FM निर्मला सीतारमण के अर्थशास्त्री पति का बड़ा बयान।-'चुनावी बॉन्ड दुनिया का सबसे बड़ा घोटाला', FM निर्मला सीतारमण के अर्थशास्त्री पति का बड़ा बयान।-'चुनावी बॉन्ड दुनिया का सबसे बड़ा घोटाला', FM निर्मला सीतारमण के अर्थशास्त्री पति का बड़ा बयान।-'चुनावी बॉन्ड दुनिया का सबसे बड़ा घोटाला', FM निर्मला सीतारमण के अर्थशास्त्री पति का बड़ा बयान।-लालू ने बीमा भारती को किया पास, पप्पू को किया फेल? पूर्णिया में पप्पू यादव के साथ हो गया खेला!-लालू ने बीमा भारती को किया पास, पप्पू को किया फेल? पूर्णिया में पप्पू यादव के साथ हो गया खेला!-लालू ने बीमा भारती को किया पास, पप्पू को किया फेल? पूर्णिया में पप्पू यादव के साथ हो गया खेला!-लालू ने बीमा भारती को किया पास, पप्पू को किया फेल? पूर्णिया में पप्पू यादव के साथ हो गया खेला!

Electoral Bonds पर Finance Minister निर्मला सीतारमण का बयान,कहा- सिस्टम 100% परफेक्ट नहीं था।

Share This News

Nirmala Sitharaman Covid Pti 882521 1599232892 1 Sixteen Nine

नई दिल्ली: Electoral Bonds पर जारी सियासी घमासान के बीच Finance Minister Nirmala Sitharaman ने अपनी पहली प्रतिक्रिया दी है। उन्होंने कहा कि इलेक्टोरल बॉन्ड को लेकर पूरी चर्चा अनुमानों पर आधारित है। उन्होंने सवाल उठाया कि क्या इससे पहले का सिस्टम फूलप्रूफ था। Nirmala Sitharaman ने स्वीकार किया कि यह परफेक्ट सिस्टम नहीं है लेकिन पिछले सिस्टम से बेहतर है। उन्होंने कहा कि हमें इससे सीखने की जरूरत है। इसे लेकर नया कानून आएगा या नहीं, इसे लेकर अभी कुछ नहीं कहा जा सकता है। लेकिन इतना यह है कि हम इस सिस्टम को और पारदर्शी बनाने के लिए प्रयास करते रहेंगे।

100 परसेंट परफेक्ट नहीं है।

सुप्रीम कोर्ट के निर्देश पर एसबीआई ने इलेक्टोरल बॉन्ड का डेटा चुनाव आयोग को भेजा था, जिसे आयोग ने सार्वजनिक कर दिया है। इंडिया टुडे कॉन्क्लेव में Finance Minister ने कहा कि हम इस प्रोसेस को और पारदर्शी बनाने के प्रयास करेंगे। इलेक्टोरल बॉन्ड व्यवस्था पुराने सिस्टम से अलग था। इसमें इलेक्टोरल बॉन्ड के जरिए बैंक अकाउंट्स में पैसा आता था। पहले का सिस्टम परफेक्ट नहीं था लेकिन अब हम ऐसे सिस्टम में पहुंचे हैं जो 100 परसेंट परफेक्ट नहीं है।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Categories updates

‘चुनावी बॉन्ड दुनिया का सबसे बड़ा घोटाला’, FM निर्मला

नई दिल्ली: Electoral Bond को लेकर विवाद लगातार गहराता जा रहा है,.

लालू ने बीमा भारती को किया पास, पप्पू को

Patna: बिहार महागठबंधन में अभी कुछ ठीक नहीं चल रहा है। खासकर.

Navneet Rana को अमरावती से मिला टिकट, BJP ने

New Delhi: आगामी लोकसभा चुनाव को लेकर भारतीय जनता पार्टी  ने 7वीं.